Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
वित्तीय संहिता पर फैसला सार्वजनिक प्रतिक्रिया सामने आने के बाद: वित्त मंत् भारत-पाकिस्तान सीमा पर सतर्कता बढ़ाने के निर्देश: राजनाथ कैट 2015 के प्रारूप में बदलाव, 29 नवंबर को होगी परीक्षा मौद्रिक नीति यथावत रख सकता है आरबीआई: बोफा-एमएल पंजाब के डीजीपी ने कहा-आतंकियों के पास थे आधुनिक हथियार ललित मोदी के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी करने की मांग वैंकेया ने संसद के कामकाज में व्यवधान डालने के लिए कांग्रेस पर साधा निशाना सरकार पी-नोट्स पर बिना सोचे विचारे कोई फैसला नहीं लेगी: अरुण जेटली 21 रेलवे स्टेशनों पर ऑनलाइन कैब, कुली बुकिंग सुविधा आरक्षण का लाभ दिलाने को हर विभाग में होंगे विशेष अधिकारी मप्र में पूरे देश में सर्वाधिक 24 हजार 776 प्रकरणों में न्यायालय द्वारा दंड टी.एल.बैठक सम्पन्न स्कूलों में शनिवार को नियमित होगी बाल-सभा स्कूलों को तम्बाकू मुक्त करने की पहल मुख्य सचिव ने दिये निर्देश, जिला अधिकारी शामिल हों जन-सुनवाई में गुफा मंदिर में महाकाल मंदिर जैसा कुण्ड बनेगा अशासकीय विद्यालयों की ऑनलाइन नवीन मान्यता/ नवीनीकरण आयोग द्वारा राज्य सेवा (मुख्य) परीक्षा 2014 की विस्तृत जानकारी प्रकाशित डायल 100 योजना- फर्स्ट रिस्पांस व्हीकल काल के 5 मिनट में पहुँचेगी श्रम विभाग की नवीन अनुज्ञप्ति जारी करने की सेवाएं पूर्णत: ऑन लाइन पत्रकारिता का मुख्य उद्देश्य सच्चाई को सामने लाना- मंत्री श्री गुप्ता प्रदेश के चिकित्सालयों में डायलिसिस की सुविधा मिलेगी CM श्री चौहान द्वारा केंद्रीय गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह का स्वागत हरा-भरा और सुन्दर हो हमारा मध्यप्रदेश- मंत्री श्री भार्गव देश की आंतरिक सुरक्षा में सीआरपीएफ का महत्वपूर्ण योगदान- राजनाथ एपीजे अब्दुल कलाम मेरी प्रेरणा थे: अन्ना हजारे राष्ट्रपति कलाम जनता के राष्ट्रपति थे : राहुल गांधी विज्ञान, शिक्षा और नैतिकता का एक ‘दुर्लभ संयोजन’ थे कलाम: बीजेपी डा. कलाम ‘राष्ट्र रत्न’ हैं: PM मोदी Google अपने सोशल नेटवर्क गूगल प्लस को अलविदा कहेगी कलाम के जीवन का सबसे बड़ा मंत्र- जीत के बाद सुस्त मत पड़ो डॉक्टर कलाम का अंतिम संस्कार गुरुवार को रामेश्वरम में होगा अमिताभ बच्चन ने दी एपीजे अब्दुल कलाम को श्रद्धांजलि मौत की सजा के विरोधी थे पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम मैसूर विवि से क्षेत्र में एक अन्वेषण आंदोलन का नेतृत्व करने का आग्रह कलेक्ट्रेट जनसुनवाई में 54 आवेदकों ने दिए आवेदन पूर्व राष्ट्रपति डॉ. कलाम के निधन पर मंत्रि-परिषद सदस्यों द्वारा शोक व्यक्त वृद्धजनों के प्रति संवेदनशीलता बरतने के निर्देश.. डीम्ड कर निर्धारण योजना का 17 अगस्त तक लाभ उठाये अधिसूचना जारी होते ही स्टाम्पों पर पंजीयन नहीं होगा डॉ. कलाम का अचानक निधन बड़ा आघात राज्यपाल श्री यादव ने दी श्रद्धांजलि समाधान ऑन लाइन 4 अगस्त को अल्पसंख्यक प्री मेट्रिक छात्रवृत्ति के आवेदन की तिथि में वृद्धि भारतीय सेना में भर्ती प्रक्रिया अब ऑनलाईन शालाओं के निरीक्षण को अभियान का रूप दें स्कूलों में बने शौचालयों के फोटोग्राफ वेबसाइट पर अपलोड होंगे डेंगू मलेरिया से बचाव के लिए 28 टीमों का गठन आपदा में मृत लोगों के परिजन को 4 लाख रुपये मिलेंगे शिवपुरी जिले के विकास कार्यों पर चर्चा दतिया और खंडवा में खुलेंगे मेडिकल कॉलेज- मंत्रि-परिषद के निर्णय 2 अगस्त तक नहीं होंगे मनोरंजन के शासकीय कार्यक्रम ज्योतिर्मय प्रज्ञा-पुरुष को कोटिश: नमन - शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री कौशल उन्नयन योजना की बाधाओं को दूर करने बनेगा विशेष प्रकोष्ठ डॉ. कलाम को मंत्रि-परिषद ने दी श्रद्धांजलि Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

किंगफिशर ने उड़ानों का परिचालन शुरू किया

MP POST:-23-02-2012
नई दिल्ली। गंभीर वित्तीय संकट से जूझ रही किंगफिशर एयरलाइन्स ने अपनी नई उड़ान समयसारणी के मुताबिक उड़ानों का गुरुवार को परिचालन शुरू किया। इसमें पहले की तुलना में उड़ानों की संख्या काफी कम कर दी गई है। उल्लेखनीय कि विमानन नियामक डीजीसीए ने इसका परिचालन ब्योरे का परीक्षण किया, ताकि इस पर विचार किया जा सके कि नियम तोड़ने के खिलाफ कंपनी के खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है या नहीं। कंपनी को 13 बैंकों के समूह द्वारा ताजा ऋण की पेशकश के बारे में अभी अनिश्चितता है क्योंकि खबर है कि प्रमुख बैंक भारतीय स्टेट बैंक ने किंगफिशर को 1,650 करोड़ रुपये का राहत पैकेज देने से इंकार किया है, लेकिन बैंक अपनी योजना के बारे में कुछ भी नहीं बता रहे।
नागर विमानन मंत्री अजित सिंह ने यहां संवाददाताओं से कहा कि यदि बैंकों यह अच्छा कारोबार लगता है तो वे किंगफिशर को ऋण देंगे, लेकिन सरकार बैंकों से यह नहीं कहेगी कि वे किसी निजी उद्योग को ऋण दें। इसका फैसला बैंक ही करेंगे। उन्हें इस आधार पर फैसला करना है कि उन्हें धन वापस मिलेगा या नहीं।
सूत्रों ने बताया कि इस बीच नागर विमानन महानिदेशालय [डीजीसीए] ने किंगफिशर के अधिकारियों की रिपोर्ट की जांच शुरू कर दी है। डीजीसीए के प्रमुख ई के भारत भूषण ने मंत्री को इसकी जानकारी दी और किंगफिशर के शीर्ष अधिकारियों के साथ हुई बातचीत संबंधी रिपोर्ट सौंपी। उन्होंने बताया कि विमानन नियामक किंगफिशर की नई और कम उड़ानों वाली समयसारणी की जांच कर रही है जिसमें तहत 28 विमानों के जरिए 175 उड़ानों के परिचालन का ब्योरा है। यह पूछने पर कि क्या विमान कानून [1937] के नियम का उल्लंघन करने के आरोप में किंगफिशर के खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है या नहीं इस बारे अजित सिंह ने कहा कि डीजीसीए इन सब पर विचार कर रहा है। उन्हें कुछ रपट मिली है। फिलहाल हमारी प्राथमिकता यह देखना है कि वे कितनी उड़ानों का परिचालन कर सकते हैं और यह सुरक्षित करना कि उड़ानें पूरी तरह सुरक्षित हों।
मंत्री ने स्वीकार किया कि विमानन उद्योग मुश्किल दौर से गुजर रहा है और कहा कि नागर विमानन आर्थिक वृद्धि का महत्वपूर्ण क्षेत्र है। हम बहुत सी नीतियों में बदलाव कर रहे हैं। इस क्षेत्र को प्रोत्साहन देना है और इसे वृद्धि दर्ज करना है। इस बीच हवाईअड्डा के सूत्रों ने बताया कि किंगफिशर ने सोमवार को डीजीसीए को सौंपी संशोधित समयसारणी के मुताबिक अपनी उड़ानों का परिचालन शुरू कर दिया है।
विमानन कंपनी ने कहा कि वह रोजाना 175 उड़ानों का परिचालन करेगी, जबकि पिछले अक्टूबर में उसने 400 उड़ानों की अनुमति मांगी थी। उस वक्त किंगफिशर ने नियामक को बताया था कि वह 64 विमानों का परिचालन करेगी, लेकिन अब इनकी संख्या घटकर 28 रह गई है क्योंकि या तो विमान का पट्टा देने वालों ने विमान वापस ले लिए हैं या फिर उनकी मरम्मत होनी है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड [सीबीडीटी] ने किंगफिशर के बैंक खातों पर रोक लगा दी है क्योंकि उसे 31 मार्च तक 40 करोड़ रुपये का अप्रत्यक्ष कर चुकाना है।