Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
भू .अभिलेख संशोधन के सम्बंध में निर्देश बीज विक्रय की दरें निर्धारित अजा-अजजा के विद्यार्थियों को मिलेंगी ग्रामर और सामान्य अध्ययन की पुस्तकें समस्त परिवहन वाहनों में परावर्तक लगाने के निर्देश खेल छात्रवृत्ति हेतु आवेदन 31मई तक अल्पसंख्यक समुदाय के विद्यार्थियों से आनलाईन आवेदनआमंत्रित पिछड़ा वर्ग पोस्ट मेट्रिक छात्रवृत्ति 2014-15 में पुनःआवेदन आमंत्रित मेड़.नाली पद्धति से सोयाबीन खेती की सलाह पेंशनरों को 6 प्रतिशत महँगाई राहत का आदेश जारी मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के चालू माली साल हेतु लक्ष्य निर्धारित कृषकों को उनकी उपज का वाजिब दाम दिलवाने राज्य-स्तरीय सम्मेलन बेंक ऑफ इंडिया की 108वीं शाखा का एसीएस श्रीमती शर्मा द्वारा शुभारंभ मध्यप्रदेश के नवाचारों को लागू करेगा राजस्थान योजनाओं के युक्तियुक्तकरण के लिये गठित नीति आयोग के उपसमूह की बैठक CM श्री चौहान ने विभिन्न प्रदेशों के मुख्यमंत्री-राज्यपाल को विदाई दी भारत से चीन को निर्यात 2020-30 में 14% सालाना की दर से बढ़ेगा LG के अधिकारों को लेकर सुप्रीम कोर्ट 29 को सुनवाई करेगा कांग्रेस शासित यूपीए सरकार में शक्ति के तीन केंद्र थे : अमित शाह मांझी ने की PM मोदी से की मुलाकात, गठबंधन की अटकलें तेज देशभर में मैगी पर लग सकता है बैन जेटली ने किसानों के प्रतिनिधियों से भूमि विधेयक को लेकर बातचीत की पिछली तारीख से टैक्स प्रावधान क्यों खत्म नहीं कर रही है सरकार: चिदंबरम लोकलुभावन रास्ते पर चलने की बजाय कठिन मार्ग का चुनाव किया : PM मोदी अर्थव्यवस्था पर PM मोदी ने ली मनमोहन सिंह से क्लास : राहुल गांधी अमेरिका-भारत बिजनेस काउंसिल के प्रतिनिधिमंडल ने सचिव से भेंट की वल्लभ भाई पटेल उद्यान में होगा सामूहिक वन्दे-मातरम् गायन नीति आयोग की बैठक में मुख्य रूप से 10 चीजों पर सहमति बनी नीति आयोग की अनुशंसाएं प्रधानमंत्री को 20 जून तक सौंपेंगे डिजीटल लॉकर-100 दिन में 1,00,000 अल्पसंख्यकवाद की राजनीति नहीं करती कांग्रेस - चिदंबरम जम्मू कश्मीर में पाकिस्तान समर्थक गतिविधियां बर्दाश्त नहीं : राजनाथ किसी के जरिए दिल्ली सरकार चलाने का कोई इरादा नहीं : राजनाथ सिंह मोदी एक महान अर्थशास्त्री हैं : स्मृति ईरानी राम मंदिर महत्वपूर्ण मुद्दा, लेकिन अभी ध्यान विकास पर : राजनाथ पहले साल में मोदी की विदेश नीति में कोई बड़े बदलाव नहीं : चीनी मीडिया पोस्ट मेट्रिक अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति वितरण समीक्षा एक जून को ग्रीष्मकालीन नृत्य कार्यशालाएँ कम्प्यूटर प्रशिक्षण केन्द्र में ही आयोजित कराये जाने के निर्देश प्रदीप कुमार सिन्हा देश के अगले कैबिनेट सचिव नियुक्त भीषण गर्मी और धूल से दिल्ली में जहरीले ओजोन का स्तर बढ़ा मोदी सरकार की आलोचना करना महंगा पड़ा, मद्रास IIT ने कसी नकेल मतदाताओ को जागरूक करने के लिए किया कम्प्यूटर गेम जारी केजरीवाल सरकार को हाई कोर्ट से झटका, HC ने कहा-नियुक्ति का अधिकार एलजी के पास 2.48 लाख क्विंटल बीज बांटने का लक्ष्य आदिवासी विकास विभाग के कर्मचारी बीमा योजनाओं के सदस्य बनें ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया से मुक्त रहेंगे अल्पसंख्यक महाविद्यालय पर्वतीय जन-जातीय संस्कृति के अवशेषों को समेटे है दीवार श्रम मंत्री श्री आर्य द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का लोकार्पण निःशुल्क सायकिल प्रदाय योजना का ऑनलाइन क्रियान्वयन होगा सामूहिक योग कार्यक्रम 21 जून को सम्पूर्ण प्रदेश में राप्रसे के 6 अधिकारी की नयी पद-स्थापना देश की पहली बाँस इन्वेस्टर्स मीट 20 से 22 जून को भोपाल में श्री चौहान को नेपाल के भूकंप प्रभावितों के लिये 25 हजार का चेक सौंपा खेती को लाभकारी बनाने बॉयो फर्टिलाईजर यूनिट का होगा लोकार्पण मुख्यमंत्री श्री चौहान उज्जैन में कृषि उत्पाद संगठनों के महा-सम्मेलन में केन्‍द्रीय मंत्री श्री रविशंकर प्रसाद ने प्रदेश के आईटी कामों को सराहा बुंदेलखण्ड को विकसित बनाने का है संकल्प Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

चार नर्मदा परियोजनाओं को जल आयोग की स्वीकृति

MP POST:-25-02-2012
भोपाल।भारत सरकार के केन्द्रीय जल आयोग ने नर्मदा घाटी की चार वृहद परियोजनाओं को सैद्धांतिक स्वीकृति प्रदान कर दी है। ये परियोजनाएँ हैं चिंकी, शेर, मच्छरेवा और शक्कर। आयोग ने इन परियोजनाओं के प्राथमिक प्रतिवेदनों के अध्ययन के बाद विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन तैयार करने के लिये नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण को सूचित किया है।
जिन परियोजनाओं को स्वीकृति दी गई है उनमें प्रस्तावित चिंकी परियोजना का निर्माण नर्मदा नदी पर ग्राम पिपरिया के पास नरसिंहपुर जिले में होगा। परियोजना के निर्माण से रायसेन और नरसिंहपुर जिलों में 73 हजार 979 हेक्टेयर सिंचाई क्षमता निर्मित होगी। इसके साथ ही परियोजना से 15 मेगावाट जल विद्युत का उत्पादन भी किया जा सकेगा। आरम्भिक अनुमान के अनुसार परियोजना की लागत लगभग 600 करोड़ रूपये है।
स्वीकृत शेर परियोजना नरसिंहपुर जिले में नर्मदा की सहायक शेर नदी पर और मच्छरेवा परियोजना इसी जिले में नर्मदा की सहायक मच्छरेवा नदी पर प्रस्तावित है। शक्कर परियोजना छिन्दवाड़ा जिले में नर्मदा की सहायक शक्कर नदी पर प्रस्तावित है। यह तीनों परियोजनाएँ एक काम्पलेक्स के रूप में निर्मित होगी। इनके जलाशयों से सिंचाई जल कामन मुख्य नहर में प्रवाहित होकर 64 हजार 800 हेक्टेयर सिंचाई क्षमता निर्मित करेगा। सम्मिलित रूप से इन परियोजनाओं की लागत 650 करोड़ रूपये आँकी गई है।
नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री ओ.पी. रावत ने बताया कि इन चार परियोजनाओं की सैद्धांतिक सहमति वृहद परियोजनाओं के निर्माण में महत्वपूर्ण कदम है। इन परियोजनाओं के विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन शीघ्र तैयार किये जायेंगे। श्री रावत ने बताया कि प्राधिकरण ने परियोजनाओं के अनुमोदन, निर्माण और परियोजना लाभ को केन्द्रित कर बहुआयामी रणनीति लागू की है। लक्ष्य है मध्यप्रदेश को आवंटित जल के उपयोग को वर्ष 2020 तक सुनिश्चित करना।