Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
महाराष्ट्र के एक और मंत्री विवादों में फंसे मोदी सरकार राजधर्म निभाने में नाकाम, छद्म राष्ट्रवादी चेहरा उजागर हुआ आरके नगर उपचुनाव: डेढ़ लाख मतों से जीतीं जयललिता कांग्रेस ने वसुंधरा और बेटे दुष्यंत पर साधा निशाना समाजवादी व्यवस्था के लिए लड़ाई की अगुवाई करनी चाहिए मुलायम, लालू को गंगा सफाई अभियानः नये बांध का निर्माण होना मुश्किल होगा कमजोर वैश्विक संकेत, हल्की मांग से सोना-चांदी में गिरावट एयरटेल बनी दुनिया में तीसरी सबसे बड़ी मोबाइल ऑपरेटर कंपनी दिल्ली विस में VAT संशोधन प्रस्ताव पास फिक्‍की व सीआईआई के प्रतिनिधिमंडल ने प्रधानमंत्री से भेंट की 3 जुलाई को मनेगा राज्य बाँस दिवस फीडरवाल कन्ज्यूमर इंडेक्सिंग के काम की योजना मंत्री श्री गुप्ता द्वारा वार्ड-28 में पाइप लाइन विस्तार का भूमि-पूजन गरोठ विधानसभा उप चुनाव में भाजपा विजयी स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण हेतु 9.24 लाख रूपये मंजूर अब एक क्लिक पर मिलेगी संपत्ति पंजीयन की जानकारी भिक्षावृत्ति करते पाये जाने वाले बच्चों के बारे में सीधे मुझे बतायें स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री श्री जोशी द्वारा पल्लवी को 10 हजार देने की घोषणा बीते वर्ष से अब तक 10 हजार से अधिक शासकीय सेवक प्रशिक्षित श्रीमती कंचन जैन पदोन्नत होकर बनी प्रशासन अकादमी की डीजी मुख्य सचिव श्री डिसा प्रशासन अकादमी के महानिदेशक श्री दाणी से मिले मंत्री श्री गोपाल भार्गव को जन्मदिन की बधाई और शुभकामनाएँ केन्द्रीय सचिव श्री मोहपात्रा ने सराहा प्रदेश की उपलब्धियों को लाड़ली लक्ष्मी के प्रमाण-पत्र बनाने में पिछड़ने वाले जिलों को चेतावनी CM श्री चौहान करेंगे वर्चुअल क्‍लास रूम के छात्र-छात्राओं से सीधे संवाद अपने खिलाफ साजिश का पर्दाफाश करूंगी : पंकजा मुंडे सरकार स्वास्थ्य क्षेत्र को मजबूत बनाने के लिए प्रतिबद्धः जे पी नड्डा खनिज निगम के व्यवसाय में एक वर्ष में 190 तथा लाभ में 54% का इजाफा प्रधानमंत्री श्री मोदी आज डिजिटल इंडिया सप्‍ताह का शुभारंभ करेंगे शिवपुरी जल आवर्धन योजना पर उच्च-स्तरीय बैठक नवबहार सब्जी मंडी को पूरी तरह करोंद मंडी में शिफट करने पर विचार सीधी भर्ती में निःशक्तजन को 6 प्रतिशत आरक्षण प्रदेश सरकार की अनूठी परंपरा है राष्ट्र गीत का सामूहिक गायन 5 नगरीय निकाय को झील एवं तालाबों के संरक्षण के लिये 3.31 करोड़ की राशि इस साल खरीफ क्षेत्राच्छादन का लक्ष्य 125 लाख हेक्टेयर प्राथमिक शालाओं और आँगनवाड़ियों में 15 जुलाई से होगा दूध वितरण भोपाल के हमीदिया रोड पर खादी बोर्ड का नया आउटलेट शिक्षा परिसर का वातावरण शैक्षणिक बनाये रखें डिजिटल इंडिया सप्‍ताह का शुभारंभ आम लोगों को बेहतर सुविधाएँ देने के लिए राज्य सरकार कटिबद्ध मध्यप्रदेश के 97 विकासखंड में प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना 8 जुलाई तक चलेगा व्यावसायिक प्रतिष्ठानों की सघन जाँच का अभियान डिजिटल इंडिया सप्ताह देश की विकास यात्रा का महत्वपूर्ण पड़ाव सिद्ध होगा स्कूलों में कमजोर वर्ग के बच्चों का प्रवेश लॉटरी से करने के निर्देश सत्ता के लिए मोदी सरकार ने मुद्दों और मूल्यों को गुडबाय कह दिया हर खेत तक सिंचाई सुविधा पहुंचाने की योजना को मंजूरी राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने भगवान वेंकटेश्वर मंदिर में पूजा की वरुण गांधी की सफाई- मैंने मदद करने का कोई प्रस्‍ताव नहीं दिया ऑनलाइन राष्ट्रीय कृषि बाजार स्थापित करने को मंजूरी नेहरू के पेज में सरकारी IP एड्रेस के जरिये बदली गई जानकारी सुषमा के पति को दिया गया था डायरेक्‍टर पद का ऑफर रेप के मामलों में कोई समझौता या मध्‍यस्‍थता नहीं हो सकता 2015-16 के लिए आयकर रिटर्न की इलेक्ट्रॉनिक फाइलिंग शुरू प्रधानमंत्री मोदी ने डिजिटल इंडिया वीक का किया शुभारंभ राज्यपाल को मुख्यमंत्री ने जन्म-दिन की बधाई दी भारत के पास वृद्धि के लिए वृहद आर्थिक आधार : जयंत डिजिटल इंडिया सप्ताह लांच किए जाने के अवसर पर प्रधानमंत्री अवधपुरी में पुलिस थाना शुरू, 35 बस्ती में कॉल पर तुरंत पहुँचेगी पुलिस डिजिटल इंडिया सप्ताह के शुभारंभ के अवसर पर PM के वक्तव्य का मूल पाठ Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

चार नर्मदा परियोजनाओं को जल आयोग की स्वीकृति

MP POST:-25-02-2012
भोपाल।भारत सरकार के केन्द्रीय जल आयोग ने नर्मदा घाटी की चार वृहद परियोजनाओं को सैद्धांतिक स्वीकृति प्रदान कर दी है। ये परियोजनाएँ हैं चिंकी, शेर, मच्छरेवा और शक्कर। आयोग ने इन परियोजनाओं के प्राथमिक प्रतिवेदनों के अध्ययन के बाद विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन तैयार करने के लिये नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण को सूचित किया है।
जिन परियोजनाओं को स्वीकृति दी गई है उनमें प्रस्तावित चिंकी परियोजना का निर्माण नर्मदा नदी पर ग्राम पिपरिया के पास नरसिंहपुर जिले में होगा। परियोजना के निर्माण से रायसेन और नरसिंहपुर जिलों में 73 हजार 979 हेक्टेयर सिंचाई क्षमता निर्मित होगी। इसके साथ ही परियोजना से 15 मेगावाट जल विद्युत का उत्पादन भी किया जा सकेगा। आरम्भिक अनुमान के अनुसार परियोजना की लागत लगभग 600 करोड़ रूपये है।
स्वीकृत शेर परियोजना नरसिंहपुर जिले में नर्मदा की सहायक शेर नदी पर और मच्छरेवा परियोजना इसी जिले में नर्मदा की सहायक मच्छरेवा नदी पर प्रस्तावित है। शक्कर परियोजना छिन्दवाड़ा जिले में नर्मदा की सहायक शक्कर नदी पर प्रस्तावित है। यह तीनों परियोजनाएँ एक काम्पलेक्स के रूप में निर्मित होगी। इनके जलाशयों से सिंचाई जल कामन मुख्य नहर में प्रवाहित होकर 64 हजार 800 हेक्टेयर सिंचाई क्षमता निर्मित करेगा। सम्मिलित रूप से इन परियोजनाओं की लागत 650 करोड़ रूपये आँकी गई है।
नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री ओ.पी. रावत ने बताया कि इन चार परियोजनाओं की सैद्धांतिक सहमति वृहद परियोजनाओं के निर्माण में महत्वपूर्ण कदम है। इन परियोजनाओं के विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन शीघ्र तैयार किये जायेंगे। श्री रावत ने बताया कि प्राधिकरण ने परियोजनाओं के अनुमोदन, निर्माण और परियोजना लाभ को केन्द्रित कर बहुआयामी रणनीति लागू की है। लक्ष्य है मध्यप्रदेश को आवंटित जल के उपयोग को वर्ष 2020 तक सुनिश्चित करना।