Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
झारखंड को परिवारवाद, भ्रष्टाचार से मुक्त करो: PM मोदी आज से विश्व हिंदू कांग्रेस 2014 की शुरूआत सरकार ने नई ग्रामीण विद्युतीकरण योजना को दी मंजूरी जरूरत पड़ने पर भारत अपनी ताकत के उपयोग को तैयार रहे : राष्ट्रपति चुनाव से पहले लगा आप को झटका, एमएस धीर भाजपा में शामिल मंगलयान 2014 के सर्वश्रेष्ठ आविष्कारों में शामिल गरीबों के होनहार बच्चों को दिल्ली में पढ़ाएगी शिवराज सरकार देश से जम्मू-कश्मीर का रिश्ता होगा अटूट: शाह सरकार नीली क्रांति शुरू करेगी राष्ट्रपति ने 115 हेलीकॉप्टर यूनिट और 26 स्क्वैड्रन को स्टैंडर्ड प्रदान किए 12 राज्यों में 221 करोड़ रुपये लागत की 42 डेयरी परियोजनाओं को मंजूरी भारत को उम्मीद भरी निगाह से देख रहा विश्वः मोदी मध्यप्रदेश में अब 99 फीसदी ई-भुगतान मतदान केन्द्रों की संख्या की 20 प्रतिशत होगी रिजर्व ई.व्ही.एम. वन अधिकारों को मान्यता देने पुनर्समीक्षा अभियान 10-11 जनवरी को होगा राष्ट्रीय बाल रंग भोपाल-इंदौर सीमा में शामिल ग्रामों के संबंध में अधिसूचना का प्रकाशन शहरों का विकास कर विकसित मप्र की परिकल्पना को साकार किया जायेगा- CM म्यांमार, आस्ट्रेलिया और फीजी यात्रा पर प्रधानमंत्री का ब्लॉग राज्य निर्वाचन आयोग में बनेगी डिजिटल लायब्रेरी मीडिया अवार्ड के लिये चुनाव आयोग ने तिथि बढ़ाई धार और शहडोल जिले में भी खुले सब परिवार के बेंक खाते 25 जनवरी को मनाया जायेगा मतदाता-दिवस सिंहस्थ के कार्यों को सर्वोच्च प्राथमिकता दें उच्च शिक्षा मंत्री श्री गुप्ता नेहरू नगर में सफाई अभियान में शामिल हुए दूसरे चरण के चुनाव की मतगणना 7 दिसम्बर को राज्यपाल ने कु. रति त्रिपाठी के स्वास्थ्य की जानकारी ली कानून व्यवस्था के मामले में निर्भीकता से कार्य करें कटनी में बनेगा क्यू-लेस मतदान केन्द्र कालाधन वापसी हेतु कर संधियों की समीक्षा: जेटली भौतिक समृद्धि के समक्ष स्‍वतंत्रता की अनदेखी नहीं-उपराष्‍ट्रपति केन्‍द्र सरकार हर जिलें में एक जल ग्राम योजना शुरू करेगी-उमा भारती प्रधानमंत्री ने मुलायम सिंह यादव को उनके जन्मदिन पर बधाई दी गणतंत्र दिवस पर अमेरिका के राष्‍ट्रपति बराक ओबामा होंगे मुख्‍य अतिथि आइएएस में प्रोन्नत राज्य सिविल सर्विस अधिकारियों की राष्ट्रपति से मुलाकात Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

चार नर्मदा परियोजनाओं को जल आयोग की स्वीकृति

MP POST:-25-02-2012
भोपाल।भारत सरकार के केन्द्रीय जल आयोग ने नर्मदा घाटी की चार वृहद परियोजनाओं को सैद्धांतिक स्वीकृति प्रदान कर दी है। ये परियोजनाएँ हैं चिंकी, शेर, मच्छरेवा और शक्कर। आयोग ने इन परियोजनाओं के प्राथमिक प्रतिवेदनों के अध्ययन के बाद विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन तैयार करने के लिये नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण को सूचित किया है।
जिन परियोजनाओं को स्वीकृति दी गई है उनमें प्रस्तावित चिंकी परियोजना का निर्माण नर्मदा नदी पर ग्राम पिपरिया के पास नरसिंहपुर जिले में होगा। परियोजना के निर्माण से रायसेन और नरसिंहपुर जिलों में 73 हजार 979 हेक्टेयर सिंचाई क्षमता निर्मित होगी। इसके साथ ही परियोजना से 15 मेगावाट जल विद्युत का उत्पादन भी किया जा सकेगा। आरम्भिक अनुमान के अनुसार परियोजना की लागत लगभग 600 करोड़ रूपये है।
स्वीकृत शेर परियोजना नरसिंहपुर जिले में नर्मदा की सहायक शेर नदी पर और मच्छरेवा परियोजना इसी जिले में नर्मदा की सहायक मच्छरेवा नदी पर प्रस्तावित है। शक्कर परियोजना छिन्दवाड़ा जिले में नर्मदा की सहायक शक्कर नदी पर प्रस्तावित है। यह तीनों परियोजनाएँ एक काम्पलेक्स के रूप में निर्मित होगी। इनके जलाशयों से सिंचाई जल कामन मुख्य नहर में प्रवाहित होकर 64 हजार 800 हेक्टेयर सिंचाई क्षमता निर्मित करेगा। सम्मिलित रूप से इन परियोजनाओं की लागत 650 करोड़ रूपये आँकी गई है।
नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री ओ.पी. रावत ने बताया कि इन चार परियोजनाओं की सैद्धांतिक सहमति वृहद परियोजनाओं के निर्माण में महत्वपूर्ण कदम है। इन परियोजनाओं के विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन शीघ्र तैयार किये जायेंगे। श्री रावत ने बताया कि प्राधिकरण ने परियोजनाओं के अनुमोदन, निर्माण और परियोजना लाभ को केन्द्रित कर बहुआयामी रणनीति लागू की है। लक्ष्य है मध्यप्रदेश को आवंटित जल के उपयोग को वर्ष 2020 तक सुनिश्चित करना।