Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
सभी जिलों में नवीनतम विधियों से पशु रोगों के परीक्षण की व्यवस्था का विस्तार भूतपूर्व सैनिक अपने बच्चों के लिए प्रधानमंत्री छात्र योजना में आवेदन करें दीपावली पर प्रदेश में सुचारु और गुणवत्तापूर्ण बिजली आपूर्ति के इंतजाम प्रधानमंत्री ने एम्‍स के 42वें दीक्षांत समारोह को संबोधित किया वस्‍त्र मंत्री ने ‘सिल्‍क फैब’ प्रदर्शनी का उद्घाटन किया गृह मंत्री राजनाथ सिंह का मुंबई दौरा स्थगित नगरीय निकाय एवं पंचायत निर्वाचन मुख्यमंत्री ने भेल स्थित दशहरा मैदान में भूमिपूजन किया एम्‍स के 42वें दीक्षांत समारोह के दौरान प्रधानमंत्री के संबोधन का मूल पाठ उन्नत खेती मध्यप्रदेश के विकास का आधार अध्यापक संवर्ग एवं पंचायत सचिवों के महँगाई भत्ते में 7 प्रतिशत वृद्धि केंद्र सरकार कामगारों के हि‍तों की रक्षा के लि‍ए प्रति‍बद्ध है: श्री तोमर प्रधानमंत्री 6 नवंबर को विश्व आयुर्वेद सम्मेलन का उद्घाटन करेगें जैविक खेती में प्रदेश देश ही नहीं विश्व में स्थान बनायेगा PM ने इंडोनेशिया के राष्ट्रपति पद की शपथ लेने पर जोको विडोडो को बधाई दी नि‍र्मला सीतारमन ने कॉफी बोर्ड के ई-सुशासन प्रयासों पर वेबसाईट लॉन्‍च की स्वास्थ्य मंत्री ने जानी डेंगू नियंत्रण की स्थिति नागरिक जिम्मेदारी निभाएँ तो लूट की वारदातें नहीं होंगी आईआईएमसी को संचार विश्वविद्यालय के रूप में उन्नत किया जाएगा: श्री जावड़ेकर प्रधानमंत्री ने धनतेरस के अवसर पर देशवासियों को शुभकामनाएं दी दीपावली के दिन प्रधानमंत्री श्रीनगर में होंगे उपराष्‍ट्रपति ने दीपावली की शुभकामनाएं दीं स्वच्छ भारत के लिये स्वच्छ मध्यप्रदेश बनायें राज्यपाल श्री यादव द्वारा पुलिस स्मृति दिवस पर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि मनोहर लाल खट्टर होंगे हरियाणा में भाजपा के मुख्यमंत्री प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए ऑस्ट्रेलिया है तैयार प्रधानमंत्री ने मलेशिया के प्रधानमंत्री से टेलीफोन पर बातचीत की इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रहः वाहन चालकों के लिए एकसमान मानक सेवा मां लक्ष्मी प्रदेश और देश की जनता पर सुख-समृद्धि बनायें रखें- श्री चौहान दीपावली जन-जन के जीवन में खुशहाली लायेगी- नंदकुमारसिंह चौहान प्रदेश के सभी जिलों में होंगे स्थापना दिवस समारोह कमल्याखेड़ा की बहनों का संकल्प हुआ पूरा प्रदेश के आई.टी.आई. उद्योगों की माँग के अनुरूप होंगे विनय सहस्त्रबुद्धे को मप्र प्रदेश प्रभारी बनाए जाने पर बधाई विश्व की पहली व्हाइट टाइगर सफारी का कार्य अंतिम चरण में PM ने पुलिस स्‍मृति दिवस पर पुलिसकर्मियों की बहादुरी को नमन किया भारत दूरसंचार तथा इंटरनेट गवर्नेंस के लोकतंत्रीकरण के पक्ष में : रविशंकर Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

चार नर्मदा परियोजनाओं को जल आयोग की स्वीकृति

MP POST:-25-02-2012
भोपाल।भारत सरकार के केन्द्रीय जल आयोग ने नर्मदा घाटी की चार वृहद परियोजनाओं को सैद्धांतिक स्वीकृति प्रदान कर दी है। ये परियोजनाएँ हैं चिंकी, शेर, मच्छरेवा और शक्कर। आयोग ने इन परियोजनाओं के प्राथमिक प्रतिवेदनों के अध्ययन के बाद विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन तैयार करने के लिये नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण को सूचित किया है।
जिन परियोजनाओं को स्वीकृति दी गई है उनमें प्रस्तावित चिंकी परियोजना का निर्माण नर्मदा नदी पर ग्राम पिपरिया के पास नरसिंहपुर जिले में होगा। परियोजना के निर्माण से रायसेन और नरसिंहपुर जिलों में 73 हजार 979 हेक्टेयर सिंचाई क्षमता निर्मित होगी। इसके साथ ही परियोजना से 15 मेगावाट जल विद्युत का उत्पादन भी किया जा सकेगा। आरम्भिक अनुमान के अनुसार परियोजना की लागत लगभग 600 करोड़ रूपये है।
स्वीकृत शेर परियोजना नरसिंहपुर जिले में नर्मदा की सहायक शेर नदी पर और मच्छरेवा परियोजना इसी जिले में नर्मदा की सहायक मच्छरेवा नदी पर प्रस्तावित है। शक्कर परियोजना छिन्दवाड़ा जिले में नर्मदा की सहायक शक्कर नदी पर प्रस्तावित है। यह तीनों परियोजनाएँ एक काम्पलेक्स के रूप में निर्मित होगी। इनके जलाशयों से सिंचाई जल कामन मुख्य नहर में प्रवाहित होकर 64 हजार 800 हेक्टेयर सिंचाई क्षमता निर्मित करेगा। सम्मिलित रूप से इन परियोजनाओं की लागत 650 करोड़ रूपये आँकी गई है।
नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री ओ.पी. रावत ने बताया कि इन चार परियोजनाओं की सैद्धांतिक सहमति वृहद परियोजनाओं के निर्माण में महत्वपूर्ण कदम है। इन परियोजनाओं के विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन शीघ्र तैयार किये जायेंगे। श्री रावत ने बताया कि प्राधिकरण ने परियोजनाओं के अनुमोदन, निर्माण और परियोजना लाभ को केन्द्रित कर बहुआयामी रणनीति लागू की है। लक्ष्य है मध्यप्रदेश को आवंटित जल के उपयोग को वर्ष 2020 तक सुनिश्चित करना।