Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
पर्यटन विकास निगम के संचालक मण्डल में दो अधिकारी नामांकित प्रधानमंत्री श्री मोदी 5 को खण्डवा में पीएम नरेंद्र मोदी ने भोज के जरिये यूपी के बीजेपी सांसदों को दिए 'मंत्र' ब्‍याज दरों को लेकर उचित पहल करेंगे: एसबीआई AAP के संयोजक पद से अरविंद केजरीवाल ने दिया इस्तीफा राजनाथ सिंह बोले- किसी हाल में इंटरव्‍यू नहीं होगा प्रसारित होली पर हो सुरक्षित रंग का प्रयोग, स्वास्थ्य मंत्री ने दी बधाई मध्यप्रदेश बनेगा ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में नंबर एक राजस्व मंत्री श्री रामपाल सिंह खण्डवा जायेंगे निजी भवनों को हेरिटेज होटलों में बदलने पर अधिकतम डेढ़ करोड़ का अनुदान निर्माण श्रमिकों की हितग्राहीमूलक योजनाओं की राशि में वृद्धि निजी स्कूल दुकान विशेष से पुस्तक और गणवेश खरीदने का दबाव नहीं श्री चौहान की कर्मठता से प्रदेश की साढ़े सात करोड़ जनता गौरवान्वित हुई किसान मोर्चा संगठन का मूल आधार- श्री नदंकुमार सिंह चौहान डी-नोवो गहन पुनरीक्षण सर्विस मतदाता अभियान 15 मार्च तक अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस किशोरी बालिकाओं पर केन्द्रित होगा भेल महाविद्यालय भवन को मिलेगी जमीन- मंत्री श्री गौर समन्वय समिति की नागरिकों से अभी भी सावधानी बरतने की अपील आरबीआई ने मुख्य नीतिगत दरों में कटौती की सांसदों को निगरानी समितियों में सह अध्यक्ष बनाने की तैयारी ‘स्मार्ट सिटीज’ के लिए बना टास्क फोर्स, वैंकेया ने तैयार की कार्य योजना अन्ना हजारे को फेसबुक पर जान से मार देने की धमकी निर्भया डॉक्‍यूमेंट्री प्रकरण: सवालों पर भड़के शिंदे लोकसभा ने बीमा संशोधन विधेयक को मंजूरी दी महाविद्यालयों में होंगी कैम्पस एम्बेसडर के लिये हेल्प-डेस्क आम आदमी भी उद्योग लगा सके ऐसा वातावरण बनाना होगा जनसंपर्क मंत्री श्री शुक्ल द्वारा होली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएँ राज्यपाल ने प्रदेशवासियों को दी होली पर्व की शुभकामनाएँ मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्री बाढ़ वाले गणेश मंदिर में पूजा-अर्चना की PM श्री मोदी ने दी CM श्री चौहान को जन्म-दिन की शुभकामनाएँ CM श्री चौहान द्वारा PM श्री नरेन्द्र मोदी का आत्मीय स्वागत प्रधानमंत्री मोदी के पास नहीं है कोई ई-मेल आईडी बीजेपी से कोई रार नहीं लेकिन भूमि अधिग्रहण बिल का विरोध करेगी शिवसेना 'आप' की पीएसी से योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण बाहर भारत में नहीं करेंगे निर्भया पर बनी डॉक्‍यूमेंट्री का प्रसारण- बीबीसी गरीबों को बिजली देना केन्द्र की सर्वोच्च प्राथमिकता : प्रधानमंत्री योगेंद्र और प्रशांत के समर्थन में मयंक गांधी हुए बागी राहुल गांधी अगले हफ्ते लौटेंगे : कमलनाथ PM मोदी ने भूमि अधिग्रहण कानून में अड़ंगे पर विपक्ष की आलोचना की होली के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुभकामनाएं दीं राष्ट्रपति ने होली की बधाई दी बाघ पुर्नस्थापना का अध्ययन कर रही है रूसी टीम पन्ना टाइगर रिजर्व में तीन अशासकीय महाविद्यालय को नवीन विषय आरंभ करने की अनुमति नहीं उपभोक्ता संरक्षण के लिये पुरूस्कार योजना सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओं के लिये आनलाईन प्राप्त आवेदनों पर कार्रवाई साधिकार समिति डिजिटल इंडिया कार्यक्रम की भी मॉनीटरिंग करेगी प्रदेश में 80 प्रतिशत से अधिक एलपीजी उपभोक्ता पहल से जुड़े प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को इंदौर विमानतल पर भावभीनी विदाई Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

मध्यप्रदेश की आईटी नीति में संशोधन-मंत्री विजयवर्गीय

MP POST:-13-03-2012
भोपाल।मध्यप्रदेश में सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में निवेश को आकर्षित करने के उद्देश्य से सूचना प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा सूचना प्रौद्योगिकी नीति 2006 जारी की थी। इस नीति के प्रावधान में आज से आंशिक संशोधन किया गया है। इस संबंध में राज्य के सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने राज्य विधानसभा में मंगलवार 13 मार्च 2012 को सूचना प्रौद्योगिकी नीति 2006 में संशोधन के संबंध में वक्तव्य दिया।
आईटी मंत्री श्री विजयवर्गीय ने विधानसभा में कांग्रेस द्वारा किये जा रहे भारी शोरगुल के बीच सदन को अवगत कराया कि मध्यप्रदेश सूचना प्रौद्योगिकी नीति 2006 में आईटी कम्पनियों को भूमि आवंटन की स्थिति में विकसित क्षेत्र पर प्रति एकड़ न्यूनतम 350 व्यक्तियों को रोजगार देने की अनिवार्यता को शिथिल करते हुए इसे न्यूनतम 100 इंजीनियर्स, आईटी, आईटीईएस प्रोफेशनल्स प्रति एकड़ किया जा रहा है।
उन्होंने सदन को बताया कि वर्तमान में शासन निर्देशों के अनुसार नैस्कॉम सूची में दर्ज शीर्ष कम्पनियों को छोड़कर शेष आईटी कम्पनियों को भूमि आवंटन की स्थिति में भूमि के बाजार मूल्य एवं कम्पनी के लिए निर्धारित रियायती मूल्य के अंतर की राशि की बैंक गारंटी के लिये जाने का प्रावधान है। उक्त प्रावधान को शिथिल करते हुए अब आईटी कम्पनियों से बैंक गारंटी प्राप्त करने की अनिवार्यता को समाप्त किया जा रहा है। कंपनी द्वारा भूमि के संभावित दुरूपयोग को रोकने के लिए लीज डीड में समुचित प्रावधान किये जायेगें।