Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
मीणा के मामले में 'आप' सरकार को दिल्ली हाईकोर्ट से राहत नहीं ‘दुर्योधन और कंस’की तरह काम करते हैं लालू : पप्पू यादव जयललिता ने चेन्नई मेट्रो के पहले चरण का किया उद्घाटन दस लाख अर्धसैनिक बलों के लिए योग अनिवार्य किया गया नयी चीन नीति लाये मोदी सरकार: सुब्रह्मण्यम स्वामी रमेश ने वसुंधरा राजे पर धौलपुर पैलेस पर अवैध कब्जे का लगाया आरोप भारत की सायबर सुरक्षा प्रणाली को आगे बढ़ाएगा नीति आयोग तीन वर्षों में गंगा होगी काफी साफ सुथरी- उमा भारती अमरनाथ श्रद्धालुओं की रक्षा में तैनात होंगी पुलिस की 16 कंपनियां खाद्य महंगाई पर लगाम लगाने को केंद्र ने खाद्य मंत्रियों की बुलाई बैठक 13 जुलाई को भोपाल के समन्वय भवन में वृहद सम्मेलन सद्व्यवहार से बढ़कर आत्मीय रिश्ता बनानें के लिए दूसरा विकल्प नहीं असंगठित क्षेत्र को सामाजिक-आर्थिक कवच देकर देश की जनता का सम्मान बढ़ाया 2015 भारत उदय का विश्व साक्षी बनेगा- श्री नरेन्द्रसिंह तोमर मंत्री द्वारा बाणगंगा बस्ती में सार्वजनिक शौचालय का भूमि-पूजन पंचायत आम/उप निर्वाचन-2015 पूर्वार्द्ध का कार्यक्रम घोषित गरोठ विधानसभा उप चुनाव की मतगणना 30 जून को "पुस्तकोत्सव" में शिक्षक पाठ्य-पुस्तकों का अध्ययन करेंगे सिंहस्थ कार्य समय पर और पारदर्शिता के साथ हों नगरीय निकायों के उप निर्वाचन के लिये मतदान 22 जुलाई को लाड़ली लक्ष्मी योजना के आवेदन ऑनलाईन जमा होगें डिजिटल इंडिया सप्‍ताह मनेगा 2 से 7 जुलाई तक श्रमिकों को दुर्घटना में मृत्यु पर मिलेगी अब दो लाख की अनुग्रह राशि अभी तक 62 लाख 40 हजार से अधिक डिजिटल जाति प्रमाण-पत्र बने स्मार्ट फोन में भी खुलेगी व्यापमं की वेबसाइट भोपाल की सड़कों और चौराहों को दुरुस्त किया जायेगा Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

कल खुलेगा रेल बजट का पिटारा

MP POST:-13-03-2012
नई दिल्ली। रेल बजट को आने में अब महज चौबीस घंटे बचे हैं। मंगलवार को केंद्रीय रेल मंत्री सदन में रेल बजट पेश करेंगे। वहीं रेल बजट को लेकर कई तरह के कयास भी लगाए जा रहे हैं। इस रेल बजट में बुलेट ट्रेन चलाने जैसे प्रावधानों के होने की उम्मीद जताई जा रही है। उम्मीद यह भी है कि कई जगहों पर डबल डेकर ट्रेन देखने को मिल जाएं। वहीं रेल सुरक्षा को लेकर भी सभी को काफी उम्मीदें हैं। वहीं नजरें रेलवे के मालभाडे़ पर और किराए पर भी टिकी हैं।
रेल बजट से पूर्व में आई सैम पित्रोदा कमेटी की रिपोर्ट में रेल सुरक्षा को लेकर कई चिंताएं जताई गई हैं। रिपोर्ट में साफ कहा गया है कि यदि रेलवे ने सुरक्षा नियमों में अनदेखी की तो भारतीय रेल और अधिक घाटे में चली जाएगी जिसका खामियाजा सरकार को भुगतना होगा। तृणमूल कांग्रेस को भी इस रेल बजट से काफी उम्मीदें जुड़ी हैं। उम्मीद यह भी है कि रेल मंत्री उत्तर पूर्व के लिए कुछ पेशकश भी कर सकते हैं।
सैम कमेटी की रिपोर्ट में न सिर्फ रेल की सुरक्षा को बढ़ाने पर जोर दिया गया है वहीं रिपोर्ट में रेलवे के आधुनिकीकरण को भी तेज करने पर जोर दिया गया है। रिपोर्ट में करीब बीस हजार किलोमीटर रेलवे लाईन के साथ-साथ कई रेलवे क्रासिंग को भी अपग्रेड करने पर जोर दिया गया है। रिपोर्ट में रेल में बढ़ रहे आपराधिक मामलों को रोकने के लिए रेलवे पुलिस फोर्स के आधुनिकीकरण की जोरदार वकालत की गई है।
रेल से सफर करने वाले यात्रियों की नजरें रेल के आधुनिकीकरण के साथ मिलने वाली सुविधा को बढ़ाने पर भी टिकी हैं। इस रेल बजट में स्टेशनों और रेल की साफ सफाई पर भी ध्यान दिए जाने की पूरी उम्मीद है।