Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
नौसेना का नया लड़ाकू पोत रविवार को लॉन्च होगा भारतीय रेलवे ने अपनी सेवा के 162 साल पूरे किए नई सरकार को राजकोषीय घाटे से निपटने में एक साल से कम समय लगा: जेटली यात्रा से भारत-कनाडा सहयोग के नए युग की शुरूआत होगी: मोदी तीन देशों की यात्रा के बाद प्रधानमंत्री मोदी कनाडा से स्वदेश रवाना कांग्रेस ने पूछा, क्या मसरत को राजद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किया है? हमने भारत विरोधी गतिविधियां बर्दाश्त नहीं करने की बात साफ कर दी: बीजेपी आय से अधिक संपत्ति मामला: जयललिता की जमानत अवधि बढ़ी भूमि और अन्य अहम विधेयक संसद के इस सत्र में आएंगे : वेंकैया ‘जनता परिवार’ के सभी सहयोगियों की राय से तय होगा नयी पार्टी का स्वरूप हताश न हों किसान, न चुनें खुदकुशी का रास्ता: सिंह कन्यादान योजना से आमजन को लाभांवित करनें में प्रकोष्ठ सेतु बनें- नंदकुमार भाजपा दल नहीं राष्ट्रवादी विचारधारा का आंदोलन है- नंदकुमार सिंह व्‍यापमं घोटाला: रामनरेश यादव की गिरफ्तारी पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक अब प्रदेश में ही होंगे रोगियों के जटिल ऑपरेशन दतिया में मेडिकल कॉलेज शुरू करने की तैयारियाँ विवाहों में सेवा प्रदाता वर-वधु के बालिग होने पर ही सेवा उपलब्ध कराएं शालाओं की छुट्टियों में भी आंगनवाड़ी में देना होगा भोजन बेटी बचाओ, बेटी पढाओ की जागरूकता के लिए मेराथन दौड का आयोजन अयोध्यानगर चौराहे से हटेगा अतिक्रमण, मंत्री श्री गौर ने दिये निर्देश महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण का रोड मेप तैयार हो- मंत्री श्रीमती माया सिंह बीमारी का जल्दी उपचार प्रारंभ हो- प्रमुख सचिव स्वास्थ्य RSS प्रचारक की तरह बर्ताव न करें प्रधानमंत्री : कांग्रेस हिन्दुवाद धर्म नहीं, बल्कि जीवन जीने की शैली है- पीएम मोदी धरोहरों के संरक्षण के लिये सामूहिक प्रयास किये जायेंगे- मंत्री श्री शाह राष्ट्रीय एवं राज्य-स्तरीय पत्रकारिता पुरस्कार वितरण समारोह 19 को आदिवासी शौर्य की प्रतीक ऐतिहासिक इमारतों का होगा संरक्षण आध्यात्मिक चेतना से जुड़े बगैर आर्थिक समृद्धि अर्थहीन Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

महंगाई दर और कम होने की आस- प्रणब

MP POST:-16-03-2012
वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने शुक्रवार को विश्वास व्यक्त किया कि अगले कुछ महीनों में महंगाई दर और कम होगी और उसके बाद स्थिर हो जाएगी।मुखर्जी ने लोकसभा में आम बजट पेश करते हुए कहा कि समग्र मुद्रास्फीति वर्ष में अधिकांशतया उंची बनी रही। केवल दिसंबर 2011 में जाकर यह कुछ कम होकर 8.3 प्रतिशत तक आई और जनवरी 2012 में 6.6 प्रतिशत रह गई। उन्होंने कहा कि मासिक खाद्य मुद्रास्फीति फरवरी 2010 में 20.2 प्रतिशत थी जो कम होकर मार्च 2011 में 9.4 प्रतिशत रह गई और जनवरी 2012 में यह ऋणात्मक हो गई।
मुखर्जी ने कहा कि यद्यपि फरवरी 2012 की मुद्रास्फीति के आंकडे मामूली रूप से बढे हैं, मुझे आशा है कि अगले कुछ महीनों में समग्र मुद्रास्फीति और कम होगी और उसके बाद स्थिर हो जाएगी।
उन्होंने कहा कि भारत की मुद्रास्फीति मुख्य रूप से कषि संबंधी आपूर्ति की अडचनों और वैश्विक लागत में बढोतरी से प्रभावित होती है। सौभाग्यवश खाद्य आपूर्ति प्रणालियों को सुढृढ करने हेतु वितरण, भंडारण और विपणन व्यवस्था की खामियों को दूर करने के लिए उठाये गये कदमों ने हमें मुद्रास्फीति के अधिक कारगर प्रबंधन में सहायता की है और इससे खाद्य मुद्रास्फीति में गिरावट आई है।