Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
तंबाकू विनिर्माण में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश पर रोक : RBI यूपीएससी परीक्षा 2014 के नतीजे घोषित, लड़कियों ने मारी बाजी आप सरकार अपनी विश्वसनीयता गंवा चुकी है : भाजपा संघर्ष का बिंदु नाथुला अब चाय पार्टी का केंद्र बन गया है: तरूण विजय विधायक के रूप में जयललिता ने ली शपथ मदरसों को अनौपचारिक स्कूल की श्रेणी में रखना धर्म विरोधी नहीं: शिवसेना अमरनाथ यात्रा को निशाना बना सकते हैं आतंकवादी : सेना दूरसंचार कंपनियां ग्राहकों को गुणवत्ता वाली सेवाएं सुनिश्चित करें : प्रसाद दाऊद इब्राहिम से लंदन में मिला था, भारत लौटना चाहता था अंडरवर्ल्ड डॉन ‘प्रौद्योगिकी उत्साहियों’ के साथ डिजिटल संवाद करेंगे PM मोदी उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा ओम नगर में सी.सी. रोड का भूमि-पूजन प्रदेश में उचित मूल्य दुकान विक्रेताओं को प्रशिक्षण अजा के छात्रावास/आश्रमों में रहने वाले विद्यार्थियों की शिष्यवृत्ति दरो मे बी.एल.ओ बूथ स्तरीय जागरूकता समूह (बीएजी) का गठन किया जायेगा प्रायवेट स्कूलों में कमजोर वर्ग के बच्चों का प्रवेश लॉटरी से करने के निर्दे अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति की प्रक्रिया अब ऑन लाईन स्मार्ट सिटी मिशन के लिये संचालन समिति गठित सामुदायिक नेतृत्व क्षमता विकास स्नातक पाठयक्रम का शुभारंभ 5 को कॉल-सेंटर में एक लाख से अधिक बिजली समस्या का निराकरण खनिज ई-नीलामी पूर्व बैठक 7 जुलाई को उच्च शिक्षा मंत्री ने प्रतिभावान विद्यार्थियों को दिये 5-5 हजार के चेक नये शिक्षा सत्र में स्कूलों का होगा आकस्मिक निरीक्षण पंचायत राज व्यवस्था को मजबूत बनाने 7 जुलाई को कार्यशाला ई-मेल पॉलिसी बनाकर अपनाने वाला मध्यप्रदेश देश में पहला राज्य भोपाल के पौने दो सौ साल पुराने ऐतिहासिक चौक बाजार को मिलेगा हेरिटेज लुक जवानों, किसानों को बकाया भुगतान नहीं तो सांसदों का वेतन बढ़ाना उचित नहीं खाली अंग्रेज मत बनो, पहले भारतीय बनो: गृह मंत्री राजनाथ सिंह प्रतिभाशाली विद्यार्थियों के लिये प्रोत्साहन योजना राज्य प्रशासनिक सेवा के 47 अधिकारियों के तबादले Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

महंगाई दर और कम होने की आस- प्रणब

MP POST:-16-03-2012
वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने शुक्रवार को विश्वास व्यक्त किया कि अगले कुछ महीनों में महंगाई दर और कम होगी और उसके बाद स्थिर हो जाएगी।मुखर्जी ने लोकसभा में आम बजट पेश करते हुए कहा कि समग्र मुद्रास्फीति वर्ष में अधिकांशतया उंची बनी रही। केवल दिसंबर 2011 में जाकर यह कुछ कम होकर 8.3 प्रतिशत तक आई और जनवरी 2012 में 6.6 प्रतिशत रह गई। उन्होंने कहा कि मासिक खाद्य मुद्रास्फीति फरवरी 2010 में 20.2 प्रतिशत थी जो कम होकर मार्च 2011 में 9.4 प्रतिशत रह गई और जनवरी 2012 में यह ऋणात्मक हो गई।
मुखर्जी ने कहा कि यद्यपि फरवरी 2012 की मुद्रास्फीति के आंकडे मामूली रूप से बढे हैं, मुझे आशा है कि अगले कुछ महीनों में समग्र मुद्रास्फीति और कम होगी और उसके बाद स्थिर हो जाएगी।
उन्होंने कहा कि भारत की मुद्रास्फीति मुख्य रूप से कषि संबंधी आपूर्ति की अडचनों और वैश्विक लागत में बढोतरी से प्रभावित होती है। सौभाग्यवश खाद्य आपूर्ति प्रणालियों को सुढृढ करने हेतु वितरण, भंडारण और विपणन व्यवस्था की खामियों को दूर करने के लिए उठाये गये कदमों ने हमें मुद्रास्फीति के अधिक कारगर प्रबंधन में सहायता की है और इससे खाद्य मुद्रास्फीति में गिरावट आई है।