Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
'स्वच्छ भारत अभियान' हर एक सप्ताह होगी मंत्रालय के कामकाज की समीक्षा- उमा भारती शिक्षा के क्षेत्र में निजी क्षेत्र की व्यापक भागीदारी हो : राष्ट्रपति सितारा देवी के निधन पर राष्ट्रपति ने शोक व्यक्त किया सार्क सम्मेलन में प्रधानमंत्री द्वारा दिया गया भाषण प्रधानमंत्री मोदी ने 26/11 के पीड़ितों को दी श्रद्धांजलि आतंकवाद से निपटने के लिए PM मोदी ने दक्षेस सम्मेलन में किया ठोस प्रयासों का आह पर्रिकर, रामगोपाल सहित 11 ने ली राज्यसभा की सदस्यता की शपथ कमल को वोट दें और झारखंड को नंबर एक राज्य बनाएं: अमित शाह सरकारी सेवाओं का भुगतान अब ऑनलाइन बोइंग ने भारत को सौंपा छठा समुद्री गश्ती विमान जनजातीय कला एवं हस्तशिल्प मेला का जुएल ओराम ने किया उद्घाटन जबलपुर जिले में भी सभी परिवार के खुले बेंक खाते नगरीय निकाय निर्वाचन में उपयोग होने वाली मल्टी पोस्ट ईव्हीएम गृह मंत्री श्री गौर द्वारा साकेत नगर में 60 लाख के 7 काम की शुरूआत साँची मिल्क पेज अब फेसबुक पर भी मतदान के दिन रहेगा अवकाश मुख्य तकनीकी परीक्षक संगठन को आईएसओ प्रमाणीकरण एबीएल शालाओं की सघन मॉनीटरिंग के लिए बनी कार्य-योजना "बौद्धिक संपदा अधिकार" कान्फ्रेंस का मुख्य सचिव करेंगे शुभारंभ प्रदेश की निर्वाचन प्रक्रिया देखेंगे महाराष्ट्र के निर्वाचन आयुक्त आतंकवाद से निपटने के लिए PM ने दक्षेस सम्मेलन में किया ठोस प्रयासों का आह्वान CM की 27 नवम्बर को राजगढ़, विदिशा, व टीकमगढ़ में चुनावी जनसभाएं शिवपुरी को आर्दश नगर के रूप में विकसित करेंगे - श्री चौहान आदर्श ग्राम योजना के तहत अभी तक 512 सांसदों ने गांवों को अपनाया हम राजनीति में क्रांति लेकर आए : केजरीवाल गरीबों व कमजोरों को दोषी ठहराती है अपराध न्याय व्यवस्था संसद में बोले जेटली, देर भले हो, काला धन आएगा जरूर केंद्रीय गृह मंत्री और पर्यटन मंत्री ने किया पर्यटक वीजा योजना का शुभारंभ गंगा की निर्मलता सुनिश्चित करने के लिए समयबद्ध कार्यक्रम की घोषणा शीघ्र के पूंजी आधारित वस्‍तु उद्योग क्षेत्र की सुरक्षा जनधन योजना केतहत बैंक खातों की संख्या दस करोड़ तक पहुंचाने का लक्ष्य मोदी और शरीफ ने आखिरकार मिलाया हाथ योजना आयोग की जगह नये संस्थान पर चर्चा भाजपा ने JK के लिए जारी किया ‘दृष्टि पत्र’ 8 वर्ष में 90% घरों में होगी पेयजल आपूर्ति: केंद्र दक्षेस के नेता देंगे संपर्क समझौतों पर जोर दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना राष्ट्रीय मतदाता दिवस के लिए स्कूलों में होंगी प्रतियोगिताएँराज्य शासन ने नेशनल सीएसओ अवार्ड का नामांकन अब 30 नवम्बर तक मध्यप्रदेश की एकीकृत बाल विकास सेवा को ई-गवर्नेंस अवार्ड राजगढ़ विकास के लिए पार्टी प्रत्याशियों के प्रति विश्वास व्यक्त करें- चौहान मुख्य सचिव मिले जनता से मुख्यमंत्री की 28 nov को सागर, दमोह, पन्ना व कटनी में चुनावी जनसभाएं बालिका शिक्षा की बैठक 29 नवम्बर को मतदाता की पहचान स्थापित करने 18 दस्तावेज होंगे मान्य प्रथम चरण का मतदान आज विकास के लिए आवश्यक है बौद्धिक संपदा का संरक्षण गणतंत्र दिवस पर सभी जिला मुख्यालय पर यूनियन कार्बाइड के आसपास की 11 एकड़ जमीन होगी विकसित Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

मिशन दिल्ली: जल्द वादे पूरा करना चाहती है सपा

MP POST:-28-03-2012
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की जीत से उत्साहित सपा की नजर अब दिल्ली फतह पर है, जिसके लिए वह उन सब वादों को पूरा करना चाहती है जो उसने राज्य विधानसभा चुनाव के दौरान जनता से किए थे। जिसके लिए सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव पूरी शिद्दत के साथ जुट गए हैं और वादों को जल्द से जल्द पूरा करने के लिए प्रदेश सरकार को निर्देश भी दे दिए हैं।
बेटे अखिलेश यादव को उत्तार प्रदेश की गद्दी सौंपकर मुलायम अब केंद्र की राजनीति में बड़ी भूमिका निभाना चाहते हैं। विधानसभा चुनाव से पहले लोगों से किए गए वादों को पूरा कर सपा अध्यक्ष आगामी लोकसभा चुनाव में पार्टी को एक बड़ी ताकत बनाना चाहते हैं। बीते दिनों समाजवादी चिंतक राम मनोहर लोहिया की जयंती पर लखनऊ में उन्होंने मुख्यमंत्री अखिलेश से जल्द से जल्द घोषणा पत्र में किए गए वादे पूरे करने के निर्देश दिए थे। मुलायम ने कहा कि घोषणा पत्र के सारे वादे जल्द पूरा करें। घोषणा पत्र की प्रतियां अधिकारियों को दे दें और उनसे अपने विभाग में इसे छह माह में लागू करने के लिए कहे। घोषणा-पत्र के सभी वादे पूरे करने में एक साल से ज्यादा का समय नहीं लगना चाहिए।
जानकारों के मुताबिक प्रदेश सरकार यदि किसानों के लिए पेंशन व बीमा, किसानों तथा बुनकरों को नि:शुल्क बिजली और उनकी कर्जमाफी, सभी को नि:शुल्क दवा एवं शिक्षा, कन्या विद्या धन, छात्रों को लैपटॉप व टैबलेट तथा बेरोजगारी भत्तो जैसे वादों को एक साल के भीतर पूरा कर देती है तो देश में मध्याविध चुनाव की स्थिति में सपा इन्हें जनता के बीच गिनवा सकेगी। आम चुनाव यदि नियत समय पर होते है तो भी पार्टी को जनता के बीच इन्हे ठीक से प्रचारित करने का समय मिल जाएगा।
घोषणा पत्र में किए गए वादों को पूरा करने के अलावा मुलायम सिंह लगातार मंत्रियों को अनुशासन में रहने और सादगी बरतने के साथ-साथ ईमानदारी से काम करने की नसीहत दे रहे हैं, ताकि अखिलेश के नेतृत्व वाली प्रदेश सरकार पर कोई दाग न लगे और सरकार के सुशासन के बल पर आगामी चुनाव में उसे जनता का भरपूर समर्थन मिले।
राजनीतिक विश्लेषक एवं लखनऊ विश्वविद्यालय में राजनीति विज्ञान के प्रोफेसर रमेश दीक्षति ने कहा कि मुलायम को पता है कि चुनावी वादे पूरे करने से सपा की जनता के बीच अच्छी छवि बनेगी और लोकसभा चुनाव में पार्टी को इसका फायदा मिलेगा।
उन्होंने कहा कि जनता के बीच अच्छी छवि बनाने के लिए ही मुलायम अब केंद्र में कांग्रेस की अगुवाई वाली संप्रग सरकार में शामिल होने से पीछे हट रहे हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि घोटालों के आरोपों से घिरी संप्रग सरकार में शामिल होने से सपा की छवि भी धूमिल हो सकती है और लोकसभा चुनाव में पार्टी को इसका नुकसान हो सकता है।