Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
सागर में मुख्यमंत्री श्री चौहान के रोड शो में उमड़ा जन-सैलाब प्रदेश में बिछेगा लघु एवं कुटीर उद्योगों का जाल ग्लोबल, ग्रीन और स्मार्ट सिटी बनेगा भोपाल उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा चूनाभट्टी में सी.सी. रोड का भूमि-पूजन छठ पर्व जल्द ही राष्ट्रीय पर्व का रूप ले लेगा : श्री यादव असम के मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से मुलाकात की PM ने 'मन की बात' कार्यक्रम पर प्राप्‍त सुझावों और टिप्पणियों की प्रशंसा की PM ने तुर्की के लोगों को उनके राष्ट्रीय दिवस के अवसर पर शुभकामनाएं दीं प्रधानमंत्री ने छठ पर्व के पावन अवसर पर देशवासियों को बधाई दी नीलोफर चक्रवात को लेकर एनडीआरएफ ने गुजरात में 14 टीमें तैनात की एनआईटी समाज के साथ गहरा जुड़ाव स्‍थापित करेः राष्‍ट्रपति नागालैंड के मुख्यमंत्री टी आर जेलियांग ने प्रधानमंत्री से मुलाकात की सरकार गठन के लिए सभी दलों से बात करेंगे नजीब जंग नवाजे़ जायेंगे बेहतर कार्य करने वाले विन्ध्यवासियों को महत्वपूर्ण सौगात विपत्तिग्रस्त महिलाओं को फेशन डिजायनिंग एवं गारमेंट मेकिंग का प्रशिक्षण मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा केन्द्रीय मंत्रियों का स्वागत राज्यपाल द्वारा 31 अक्टूबर को "राष्ट्रीय एकता दिवस" मनाने के निर्देश 100 रुपये में मिलेगी मतदाता सूची की सीडी राष्ट्रीय एकता दिवस पर होगी शपथ प्रदेश की महिला-बाल योजनाओं और उनके परिणामों की सराहना मंथन की अनुशंसाओं को क्रियान्वित करने मंत्री-परिषद समिति गठित तीन श्रम कानून में संशोधन अध्यादेश जारी प्रधानमंत्री से मिले गोवा के मुख्यमंत्री अजीम प्रेमजी ने प्रधानमंत्री से मुलाकात की प्रधानमंत्री ने श्रीलंका में भूस्खलन में लोगों की मौत पर संवेदना प्रकट की राष्ट्रपति कल राष्ट्रपति भवन में एकता के लिए दौड़ को हरी झंडी दिखाएंगे उमा भारती कल कानपुर जाएंगी मोदी सरकार का खर्च कटौती अभियान की शुरुआत सिख दंगा पीडि़तों के परिजनों को मिलेगा 5-5 लाख रुपये मुआवजा Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

मिशन दिल्ली: जल्द वादे पूरा करना चाहती है सपा

MP POST:-28-03-2012
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की जीत से उत्साहित सपा की नजर अब दिल्ली फतह पर है, जिसके लिए वह उन सब वादों को पूरा करना चाहती है जो उसने राज्य विधानसभा चुनाव के दौरान जनता से किए थे। जिसके लिए सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव पूरी शिद्दत के साथ जुट गए हैं और वादों को जल्द से जल्द पूरा करने के लिए प्रदेश सरकार को निर्देश भी दे दिए हैं।
बेटे अखिलेश यादव को उत्तार प्रदेश की गद्दी सौंपकर मुलायम अब केंद्र की राजनीति में बड़ी भूमिका निभाना चाहते हैं। विधानसभा चुनाव से पहले लोगों से किए गए वादों को पूरा कर सपा अध्यक्ष आगामी लोकसभा चुनाव में पार्टी को एक बड़ी ताकत बनाना चाहते हैं। बीते दिनों समाजवादी चिंतक राम मनोहर लोहिया की जयंती पर लखनऊ में उन्होंने मुख्यमंत्री अखिलेश से जल्द से जल्द घोषणा पत्र में किए गए वादे पूरे करने के निर्देश दिए थे। मुलायम ने कहा कि घोषणा पत्र के सारे वादे जल्द पूरा करें। घोषणा पत्र की प्रतियां अधिकारियों को दे दें और उनसे अपने विभाग में इसे छह माह में लागू करने के लिए कहे। घोषणा-पत्र के सभी वादे पूरे करने में एक साल से ज्यादा का समय नहीं लगना चाहिए।
जानकारों के मुताबिक प्रदेश सरकार यदि किसानों के लिए पेंशन व बीमा, किसानों तथा बुनकरों को नि:शुल्क बिजली और उनकी कर्जमाफी, सभी को नि:शुल्क दवा एवं शिक्षा, कन्या विद्या धन, छात्रों को लैपटॉप व टैबलेट तथा बेरोजगारी भत्तो जैसे वादों को एक साल के भीतर पूरा कर देती है तो देश में मध्याविध चुनाव की स्थिति में सपा इन्हें जनता के बीच गिनवा सकेगी। आम चुनाव यदि नियत समय पर होते है तो भी पार्टी को जनता के बीच इन्हे ठीक से प्रचारित करने का समय मिल जाएगा।
घोषणा पत्र में किए गए वादों को पूरा करने के अलावा मुलायम सिंह लगातार मंत्रियों को अनुशासन में रहने और सादगी बरतने के साथ-साथ ईमानदारी से काम करने की नसीहत दे रहे हैं, ताकि अखिलेश के नेतृत्व वाली प्रदेश सरकार पर कोई दाग न लगे और सरकार के सुशासन के बल पर आगामी चुनाव में उसे जनता का भरपूर समर्थन मिले।
राजनीतिक विश्लेषक एवं लखनऊ विश्वविद्यालय में राजनीति विज्ञान के प्रोफेसर रमेश दीक्षति ने कहा कि मुलायम को पता है कि चुनावी वादे पूरे करने से सपा की जनता के बीच अच्छी छवि बनेगी और लोकसभा चुनाव में पार्टी को इसका फायदा मिलेगा।
उन्होंने कहा कि जनता के बीच अच्छी छवि बनाने के लिए ही मुलायम अब केंद्र में कांग्रेस की अगुवाई वाली संप्रग सरकार में शामिल होने से पीछे हट रहे हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि घोटालों के आरोपों से घिरी संप्रग सरकार में शामिल होने से सपा की छवि भी धूमिल हो सकती है और लोकसभा चुनाव में पार्टी को इसका नुकसान हो सकता है।