Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
नौसेना का नया लड़ाकू पोत रविवार को लॉन्च होगा भारतीय रेलवे ने अपनी सेवा के 162 साल पूरे किए नई सरकार को राजकोषीय घाटे से निपटने में एक साल से कम समय लगा: जेटली यात्रा से भारत-कनाडा सहयोग के नए युग की शुरूआत होगी: मोदी तीन देशों की यात्रा के बाद प्रधानमंत्री मोदी कनाडा से स्वदेश रवाना कांग्रेस ने पूछा, क्या मसरत को राजद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किया है? हमने भारत विरोधी गतिविधियां बर्दाश्त नहीं करने की बात साफ कर दी: बीजेपी आय से अधिक संपत्ति मामला: जयललिता की जमानत अवधि बढ़ी भूमि और अन्य अहम विधेयक संसद के इस सत्र में आएंगे : वेंकैया ‘जनता परिवार’ के सभी सहयोगियों की राय से तय होगा नयी पार्टी का स्वरूप हताश न हों किसान, न चुनें खुदकुशी का रास्ता: सिंह कन्यादान योजना से आमजन को लाभांवित करनें में प्रकोष्ठ सेतु बनें- नंदकुमार भाजपा दल नहीं राष्ट्रवादी विचारधारा का आंदोलन है- नंदकुमार सिंह व्‍यापमं घोटाला: रामनरेश यादव की गिरफ्तारी पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक अब प्रदेश में ही होंगे रोगियों के जटिल ऑपरेशन दतिया में मेडिकल कॉलेज शुरू करने की तैयारियाँ विवाहों में सेवा प्रदाता वर-वधु के बालिग होने पर ही सेवा उपलब्ध कराएं शालाओं की छुट्टियों में भी आंगनवाड़ी में देना होगा भोजन बेटी बचाओ, बेटी पढाओ की जागरूकता के लिए मेराथन दौड का आयोजन अयोध्यानगर चौराहे से हटेगा अतिक्रमण, मंत्री श्री गौर ने दिये निर्देश महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण का रोड मेप तैयार हो- मंत्री श्रीमती माया सिंह बीमारी का जल्दी उपचार प्रारंभ हो- प्रमुख सचिव स्वास्थ्य RSS प्रचारक की तरह बर्ताव न करें प्रधानमंत्री : कांग्रेस हिन्दुवाद धर्म नहीं, बल्कि जीवन जीने की शैली है- पीएम मोदी धरोहरों के संरक्षण के लिये सामूहिक प्रयास किये जायेंगे- मंत्री श्री शाह राष्ट्रीय एवं राज्य-स्तरीय पत्रकारिता पुरस्कार वितरण समारोह 19 को आदिवासी शौर्य की प्रतीक ऐतिहासिक इमारतों का होगा संरक्षण आध्यात्मिक चेतना से जुड़े बगैर आर्थिक समृद्धि अर्थहीन महिला मोर्चा की बैठक 19 अप्रैल को भोपाल में अनूसूचित जाति मोर्चा की प्रदेष कार्यसमिति एवं जिलाध्यक्षों की बैठक अल्पसंख्यक भाई कंधे से कंधा मिलाकर मुल्क को तातकवर बनायेंगे- श्री मेनन उपभोक्ता कल्याण निधि से अनुदान के लिये आवेदन आमंत्रित निर्माण से भी जरूरी है बेहतर भविष्य बनाना- मंत्री श्रीमती माया सिंह राष्ट्रीय एवं राज्य-स्तरीय पत्रकारिता पुरस्कार वितरण समारोह रविवार को परिवहन मंत्री ने किया गेहूँ खरीदी केंद्र का निरीक्षण मूर्ति भारत लाने पर PM श्री नरेन्द्र मोदी की मंत्री श्री गौर ने की प्रशंसा किरण नगर, झील नगर के नाले नालियों को तुरंत बनाये डॉ. अम्बेडकर के विचारों को सही परिप्रेक्ष्य में जानने की जरूरत प्रदेश में हुई 21 लाख मीट्रिक टन गेहूँ की खरीदी निमाड़ के किसानों के लिये ओंकारेश्वर नहर बनी जीवन रेखा महिला सशक्तिकरण भारत की संस्कृति में निहित- CM श्री चौहान दसवाँ विश्व हिन्दी सम्मेलन भोपाल में होगा ऑनलाइन रिटर्न के बाद डाक से दस्तावेज भेजने से निजात रिलायंस इंडस्ट्रीज इस साल फिर से चालू करेगी अपने सभी पेट्रोल पंप दिल्ली में टंगा संजय जोशी के समर्थन में पोस्टर, पीएम पर हमला हरित प्रौद्योगिकी का विकास युद्धस्तर पर करने की जरूरत : जेटली भूमि विधेयक पर सरकार के दावों की पोल खोलेगी कांग्रेस आदान-प्रदान ही कालेधन से निपटाने का एकमात्र रास्ता: अरुण PM मोदी ने विश्व स्तर पर भारत का कद बढ़ाया है : स्वराज पॉल पिछली तिथि से टैक्स लगाना पड़ेगा महंगा: वित्त मंत्री अरुण जेटली पीएम मोदी की कनाडा यात्रा से 1.6 अरब डॉलर मूल्य का व्यवसाय सृजन न्यायिक नियुक्तियों में उच्चतम मानकों का पालन किया जाना चाहिए: राष्ट्रपति मूल्य आधारित शिक्षा ने ही सुपर-30 को सफल बनाया- आनंद कुमार महिलाओं में स्वास्थ्य साक्षरता बढ़ाने चलेगा अभियान Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

मुख्यमंत्री ने की लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग की समीक्षा

MP POST:-15-05-2012
भोपाल।प्रदेश में नदी, डेम आदि सतही जल-स्त्रोतों पर आधारित समूह जल प्रदाय योजनाओं का क्रियान्वयन जल विकास निगम के माध्यम से किया जायेगा। कम से कम 50 प्रतिशत नलकूप का खनन विभागीय मशीनों से होगा। यह जानकारी आज यहाँ मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा की गयी लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग की समीक्षा में दी गयी। बताया गया कि सतही जल-स्त्रोतों पर आधारित योजना का प्रस्ताव कैबिनेट की अगली बैठक में प्रस्तुत किया जायेगा।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिये कि डार्क एरिया, जहाँ पानी की समस्या है, में पेयजल उपलब्ध करवाने पर विशेष ध्यान दिया जाय। पेयजल योजनाएँ आगामी 25 वर्ष की जनसंख्या तथा विकास को ध्यान में रखते हुए बनायी जाये। उन्होंने निर्देश दिये कि उनके द्वारा की गयी घोषणाओं के अमल में विलम्ब नहीं हो। श्री चौहान ने भू-जल संवर्धन के कार्यों के स्थल निरीक्षण के निर्देश दिये। बैठक में बताया गया कि नलकूप खनन के लिये क्षेत्र में भेजी जाने वाली विभागीय मशीनों की निगरानी जी पी एस सिस्टम से की जायेगी। विभागीय योजनाओं का थर्ड पार्टी निरीक्षण तथा मूल्यांकन करवाया जायेगा। इसमें सेवानिवृत्त विभागीय अधिकारी तथा अन्य विभागों के अधिकारियों की सेवाएँ ली जायेंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसा सिस्टम बनाया जाय जिसमें गड़बड़ी की गुंजाइश ही नहीं रहे। बैठक में जानकारी दी गयी कि बंद पड़ी सभी नल-जल योजनाएँ अभियान चलाकर चालू की जा रही हैं। बीते वित्तीय वर्ष के दौरान इस अभियान में 1100 नल-जल योजनाएँ चालू की गयीं।
बैठक में बताया गया कि प्रदेश के इंटीग्रेटेड एक्शन प्लान वाले नौ जिलों सहित 13 जिलों के 735 ग्राम में इस वर्ष दोहरी सुविधा वाली जल योजना क्रियान्वित की जायेगी। रुपये 38 करोड़ 36 लाख लागत की इन योजनाओं में सब्सिडी उपलब्ध करवाने का प्रस्ताव केन्द्र शासन को भेजा गया है। इन योजनाओं में हैण्ड पम्पों में सोलर पम्प लगाये जायेंगे। जिससे सूर्य की रोशनी के दौरान पम्प से पानी प्राप्त होगा तथा जरूरत पड़ने पर हैण्ड पम्प भी चलाये जा सकेंगे।
बैठक में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन, मुख्य सचिव श्री आर. परशुराम, प्रमुख सचिव श्री मनोज श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव श्री अजय नाथ, सचिव लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी श्री एस.के. मिश्रा सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।