Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
झारखंड को परिवारवाद, भ्रष्टाचार से मुक्त करो: PM मोदी आज से विश्व हिंदू कांग्रेस 2014 की शुरूआत सरकार ने नई ग्रामीण विद्युतीकरण योजना को दी मंजूरी जरूरत पड़ने पर भारत अपनी ताकत के उपयोग को तैयार रहे : राष्ट्रपति चुनाव से पहले लगा आप को झटका, एमएस धीर भाजपा में शामिल मंगलयान 2014 के सर्वश्रेष्ठ आविष्कारों में शामिल गरीबों के होनहार बच्चों को दिल्ली में पढ़ाएगी शिवराज सरकार देश से जम्मू-कश्मीर का रिश्ता होगा अटूट: शाह सरकार नीली क्रांति शुरू करेगी राष्ट्रपति ने 115 हेलीकॉप्टर यूनिट और 26 स्क्वैड्रन को स्टैंडर्ड प्रदान किए 12 राज्यों में 221 करोड़ रुपये लागत की 42 डेयरी परियोजनाओं को मंजूरी भारत को उम्मीद भरी निगाह से देख रहा विश्वः मोदी मध्यप्रदेश में अब 99 फीसदी ई-भुगतान मतदान केन्द्रों की संख्या की 20 प्रतिशत होगी रिजर्व ई.व्ही.एम. वन अधिकारों को मान्यता देने पुनर्समीक्षा अभियान 10-11 जनवरी को होगा राष्ट्रीय बाल रंग भोपाल-इंदौर सीमा में शामिल ग्रामों के संबंध में अधिसूचना का प्रकाशन शहरों का विकास कर विकसित मप्र की परिकल्पना को साकार किया जायेगा- CM म्यांमार, आस्ट्रेलिया और फीजी यात्रा पर प्रधानमंत्री का ब्लॉग राज्य निर्वाचन आयोग में बनेगी डिजिटल लायब्रेरी मीडिया अवार्ड के लिये चुनाव आयोग ने तिथि बढ़ाई Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

मप्र शासन द्वारा राज्य एवं जिला स्तर पर अधिकारियों और कर्मचारियों की स्थान

MP POST:-20-04-2011
भोपाल।मप्र शासन द्वारा राज्य एवं जिला स्तर पर अधिकारियों और कर्मचारियों की स्थानांतरण के लिये वर्ष 2011-12 की स्थानांतरण नीति निर्धारित की है। मध्यप्रदेश शासन के सामान्य प्रशासन विभाग मंत्रालय वल्लभ भवन भोपाल ने 20 अपै्रल 2011 बुधवार को नीति के बिन्दु जारी कर दिये हैं।
इस संबंध में राज्य शासन ने प्रदेश के समस्त विभाग, विभागाध्यक्ष, संभागायुक्त, कलेक्टर तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत मध्यप्रदेश शासन को नीति की प्रति भेज दी है। 17 बिन्दुओं पर केन्द्रीत स्थानांतरण नीति में कहा गया है कि सभी प्रकार के संलग्नीकरण समाप्त किया जाना सुनिश्चित किया जाये।
प्रमुख सचिव मध्यप्रदेश शासन सामान्य प्रशासन विभाग विजया श्रीवास्तव ने यह नीति 19 अपै्रल 2011 को मप्र मंत्रिपरिषद की संपन्न हुई बैठक में मंत्रिपरिषद के अनुमोदन के बाद जारी की है। वर्ष 2011-12 के लिये स्थानांतरण नीति के मुताबिक कर्मचारियों और अधिकारियों के स्थानांतरण 20 अपै्रल से 7 जून तक हो सकेंगे।