Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
वीरांगनाएँ तैयार हो रही हैं मध्यप्रदेश में जन-जातीय गीतों के संरक्षण के लिये स्वर-लिपियाँ हुई तैयार श्रीमती सिंधिया गुरूवार को ग्वालियर औद्योगिक क्षेत्रों का दौरा करेंगी पर्यावरण को संतुलित बनाने के लिये हरियाली महोत्सव को सफल बनायें मप्र में सरकार और लोगों के बीच अब महज एक कॉल का फासला PM से मित्‍सुबिसी के अध्‍यक्ष एवं मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी ने मुलाकात की सिक्किम के राज्‍यपाल ने प्रधानमंत्री से भेंट की राष्‍ट्रपति ने राष्‍ट्रमंडल खेलों के पदक विजेताओं को बधाई दी नेता प्रतिपक्ष मामले में फैसला अगले चार दिनों में: सुमित्रा मुख्य सचिव दोपहर डेढ़ बजे से आमजन से मिलेंगे हरियाली महोत्सव को जन-आंदोलन बनायें सुषमा स्वराज 1 व 2 अगस्त को भोपाल एवं विदिशा प्रवास पर श्री मोदी ने विकसित देशों को आकर्षित कर भारत का सम्मान बढ़ाया डॉ. गौरीशंकर शेजवार ने प्रकाश जावड़ेकर से भेंट की अभिहीत कर्मचारियों को ई वी एम की दी गई ट्रेनिंग जदयू, राजद और कांग्रेस ने बिहार में की गठबंधन की घोषणा राधा मोहन सिंह: कृषि विकास के दो स्तंभ कृषि अनुसंधान एवं शैक्षणिक संस्थान मुख्यमंत्री श्री चौहान सी.एम. हेल्पलाइन-181 का शुभारंभ करेंगे मध्यप्रदेश में स्थापित होगा मंदिर प्रबंध संस्थान सेब पर आयात शुल्‍क में वृद्धि नहीं :निर्मला सीतारमन 16वीं लोकसभा: PM सामाजिक कार्यकर्ता तो राहुल गांधी हैं रणनीतिक परामर्शक Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

मप्र शासन द्वारा राज्य एवं जिला स्तर पर अधिकारियों और कर्मचारियों की स्थान

MP POST:-20-04-2011
भोपाल।मप्र शासन द्वारा राज्य एवं जिला स्तर पर अधिकारियों और कर्मचारियों की स्थानांतरण के लिये वर्ष 2011-12 की स्थानांतरण नीति निर्धारित की है। मध्यप्रदेश शासन के सामान्य प्रशासन विभाग मंत्रालय वल्लभ भवन भोपाल ने 20 अपै्रल 2011 बुधवार को नीति के बिन्दु जारी कर दिये हैं।
इस संबंध में राज्य शासन ने प्रदेश के समस्त विभाग, विभागाध्यक्ष, संभागायुक्त, कलेक्टर तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत मध्यप्रदेश शासन को नीति की प्रति भेज दी है। 17 बिन्दुओं पर केन्द्रीत स्थानांतरण नीति में कहा गया है कि सभी प्रकार के संलग्नीकरण समाप्त किया जाना सुनिश्चित किया जाये।
प्रमुख सचिव मध्यप्रदेश शासन सामान्य प्रशासन विभाग विजया श्रीवास्तव ने यह नीति 19 अपै्रल 2011 को मप्र मंत्रिपरिषद की संपन्न हुई बैठक में मंत्रिपरिषद के अनुमोदन के बाद जारी की है। वर्ष 2011-12 के लिये स्थानांतरण नीति के मुताबिक कर्मचारियों और अधिकारियों के स्थानांतरण 20 अपै्रल से 7 जून तक हो सकेंगे।