Facebook Twitter Youtube g+ Linkedin
दहशतगर्दी को मजहब से जोड़ना संकीर्ण राजनीति- नंदकुमार सारंगपुर के विकास के लिए भाजपा को चुनें- नंदकुमार सिंह छात्रवृत्ति योजना के बारे में शिक्षण संस्थाएं शीघ्र जानकारी भेजें मजीठिया वेतन आयोग की अनुशंसा लागू करने 9 अगस्त तक सुझाव भूतपूर्व सैनिकों एवं उनके आश्रितों से आधार कार्ड शीघ्र बनावाने की अपील स्वतंत्रता दिवस की तैयारियों के बारे में बैठक 3 अगस्त को आवासीय विद्यालय का नाम ज्ञानोदय विद्यालय गृह मंत्री श्री गौर द्वारा स्वेच्छानुदान निधि से 11 लोगों को सहायता प्रदेश बनेगा देश में सर्वाधिक बाँस प्रजाति वाला राज्य जेल एवं गृह मंत्री श्री गौर वन्दे-मातरम् में हुए शामिल अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति प्रक्रिया हुई सरल व्यक्तिगत पारिवारिक शौचालयों का निर्माण भारतीय सेना में भर्ती प्रक्रिया अब हुई ऑनलाइन अंशधारकों से पूछेगा EPFO, कोष का कहां चाहते हैं निवेश सरकारी बैंकों में 70,000 करोड़ की पूंजी डालेगी सरकार : जेटली केंद्र सरकार एयर इंडिया में अतिरिक्त 800 करोड़ पूंजी डालेगी लाइव टीवी एप : 60 रुपए में 80 टीवी चैनल और 5000 मूवीज पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस सिलेंडर हुआ सस्ता बीजेपी पहुंचा रही है संसद की कार्यवाही में बाधा: येचुरी संसदीय रणनीति पर पार्टी सांसदों से बात करेंगी सोनिया न्याय की जद में लाए जाएं मुंबई हमलों के अपराधी : अमेरिका मेमन की मौत पर शोक मनाने वाले राष्ट्रविरोधी : साक्षी महाराज पीएम से मिले आदित्य ठाकरे, डिजिटल इंडिया मुहिम पर की चर्चा 13 लाख गर्भवती एवं धात्री महिला ने सुना रेडियो कार्यक्रम श्री अभिषेक राजन की पद-स्थापना भावसे के 5 अधिकारी पीसीसीएफ बने शिंदे ने संसद में हिंदू आतंकवाद शब्द के इस्तेमाल से किया इनकार याकूब की फांसी के मामले में सरकार ने मानवीय व्यवहार किया : आरएसएस सार्थक संवाद का बेहतर प्रयास है ग्रामीण मीडिया कार्यशाला CM श्री चौहान ने किया पचमढ़ी में नालंदा टोला का निरीक्षण टीवी चैनलों को चलती है टीआरपी जनहित में सामुदायिक एवं एफ.एम. रेडियो की भूमिका पर संगोष्ठी 2 को Follows us on 
 मुख्य शीर्षक
 आज के कार्यक्रम
..........
 आमने सामने
  

वोटर-लिस्ट वेबसाइट पर उपलब्ध-विधानसभा निर्वाचन-2013

MP POST:-25-03-2013
भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय की वेबसाइट पर वर्ष 2013 की वोटर-लिस्ट उपलब्ध करवाई गई है। वेबसाइट को देखकर मतदाता अपना नाम वोटर-लिस्ट में है या नहीं, पता कर सकेंगे। वेबसाइट पर मतदाता वोटर-लिस्ट में अपना नाम सर्च कर सकेंगे। इसके लिये उन्हें अपना नाम एवं एपिक-कार्ड का नम्बर डालना होगा। यदि एपिक-कार्ड का नम्बर डालने से नाम नहीं आता है तो आवेदक को फार्म नम्बर-6 भरकर अपना नाम जुड़वाना होगा।
प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री जयदीप गोविंद ने सभी मतदाताओं से अपील की है कि वे वेबसाइट पर सर्च सुविधा का उपयोग कर अपना नाम सूची में है या नहीं, जरूर देखें। सूची में नाम न होने पर फार्म नम्बर-6 भरकर मतदाता परिचय-पत्र प्राप्त करने की कार्यवाही करें। नाम जोड़ने और नये एपिक कार्य के लिये सभी मतदान-केन्द्रों को 15 दिन का समय दिया गया है। उन्होंने बताया कि विधानसभा क्षेत्र का कोई भी मतदाता डुप्लीकेट कार्ड तहसील कार्यालय में स्थापित सहायता केन्द्र पर तत्काल बनवा सकता है। पुराने कार्ड की त्रुटियों में सुधार के लिये फार्म नम्बर-8 भरकर प्रस्तुत किया जा सकता है। नाम विलोपित करने के लिये फार्म नम्बर-7 मान्य होगा। विधानसभा क्षेत्र में एक स्थान से दूसरे स्थान पर नाम ट्रांसफर करवाने के लिये फार्म नम्बर-8 ‘क’ भरकर जमा किया जा सकेगा।
श्री जयदीप गोविंद ने बताया कि मतदाता-सूची में नाम हो तथा पूर्व का बना हुआ एपिक-कार्ड गुम या खराब हो गया हो तो आवेदन-पत्र भरकर तथा 25 रुपये जमा कर तुरंत डुप्लीकेट एपिक-कार्ड बनवाया जा सकता है। मतदाता सुविधा-केन्द्रों का समय कार्यालयीन दिवसों में सबेरे 10.30 से शाम 5.30 बजे तक है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने ऐसे पात्र मतदाताओं, जिनकी आयु एक जनवरी, 2013 को 18 वर्ष की हो गई है तथा जिनका नाम मतदाता-सूची में शामिल नहीं है, उनसे भी अपना नाम जुड़वाने की अपील की है।
उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश का मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय इन दिनों आमजन को चुनाव प्रक्रिया से जोड़ने की दिशा में लगातार सक्रिय है। मतदाताओं की सुविधा के लिये राष्ट्रीय-स्तर की हेल्पलाइन, वेबसाइट तथा टोल-फ्री नम्बर 1950 उपलब्ध करवाया गया है। प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों में मतदाता सुविधा-केन्द्र स्थापित किये गये हैं। साथ ही 230 विधानसभा क्षेत्र मुख्यालयों पर भी मतदाता सहायता-केन्द्रों की स्थापना की गई है। इस प्रकार अब मतदाताओं को सालभर आसानी से वोटर-लिस्ट एवं मतदाता पहचान-पत्र संबंधी कार्य की सुविधा उपलब्ध रहेगी। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के 17, अरेरा हिल्स, भोपाल स्थित कार्यालय में भी राज्य-स्तरीय मतदाता सुविधा-केन्द्र विगत जनवरी से मतदाताओं को सुविधा प्रदान कर रहा है। इस केन्द्र पर नाम जोड़ने के लिये फार्म, डुप्लीकेट पहचान-पत्र बनवाने तथा त्रुटियों के सुधार के लिये आवेदन दिये जा रहे हैं।